English |

सम्पर्क करें

   वृत्ति     निविदाएँ     वेबमेल

मुख्य पृष्ठ   |   हमारे बारे में   |       |    अनुसंधान  |   प्रौद्योगिकी और   सेवाएँ |   शिक्षिक    |    प्रशिक्षण   |   पुरस्कार एवं सम्मान  

 

सीएसआइआर-भा.पे.सं. कैसे पहुंचें

हवाई मार्ग से: उत्‍तराखंड राज्‍य के देहरादून नगर का निकटतम विमानपत्‍तन जॉली ग्रांट विमानपत्‍तन है। यह देहरादून शहर से 25 किमी दूर है और यह मोटर वाहनों के लिए उपयुक्‍त सड़कों से जुडा है। जॉलीग्रांट विमानपत्‍तन से देहरादून जाने के लिए टैक्‍सी वाहन आसानी से उपलब्‍ध हैं। जॉलीग्रांट विमानपत्‍तन दैनिक उड़ानों के माध्‍यम से दिल्‍ली से बहुत अच्‍छी तरह जुडा है।

रेल मार्ग से:देहरादून, रेल-मार्ग से अच्‍छी तरह जुडा है और भारत के प्रमुख शहरों से देहरादून तक रेलगाड़ियों से पहुंचा जा सकता है। दिल्‍ली से देहरादून एवं वापसी के लिए रोज आने-जाने वाली दो रेलगाड़ियाँ हैं। देहरादून शहर, देहरादून रेलवे स्‍टेशन से 2 किमी. की दूरी पर है। भारत के प्रमुख शहरों से जोड़ने वाली दो प्रमुख रेलगाड़ियां है: शताब्‍दी एक्‍सप्रेस एवं मसूरी एक्‍सप्रेस। देहरादून के उत्‍कृष्‍ट रेल संजाल में सभी प्रमुख नगर हैं जैसे- अम़ृतसर, हावड़ा, मुंबई, दिल्‍ली,लखनऊ, वाराणसी, आदि।

सड़क मार्ग से:देहरादून आने-जाने के लिए पर्याप्‍त परिवहन सुविधाएं है। देहरादून के लिए आरामदेह व सामान्‍य दोनों प्रकार की बसें आइ. एस. बी. टी. कश्‍मीरी गेट (दिल्‍ली) से आसानी से उपलब्‍ध हैं। उत्‍तराखंड के प्रमुख स्‍थलों से भी देहरादून आने के लिए बसें व टैक्‍सी वाहन उपलब्‍ध हैं। देहरादून राष्‍ट्रीय राजमार्ग 72 से जुडा होने के कारण यहां तक पहुंचना आसान है।

देहरादून तक कार, टैक्‍सी या आरामदेह बस कोचों से आसानी से पहुंचा जा सकता है। दिल्‍ली से देहरादून तक के सडक मार्ग संबंधी अद्यतन निर्देशों, निकटतम रेलवे स्‍टेशन की रेलगाडियों तथा विमानपत्‍तन उडानों की समय-सारणियों के बारे में uttaranchal travels से पता करें।

 



View Indian Institute of Petroleum in a larger map


 


 

वै. औ. अ. प.   |  अनु-वि सुविधाएंं |  कर्मचारी निदेशिकाा  |  ज्ञा सं केंी   |   प्रकाशन   |  एकस्‍व   |   प्रौद्योगिकी  |    समाचार   |   घटनाक्रम    |   सूचना-पत्र

मुख्य पृष्ठ   |  भा.पे.सं. कैसे पहुंचेी  |   अतिथि गृह   |  सूचना का अधिकार   |  प्रति प़ुष्टि   |  दावात्‍याग   |  साइट रूप-रेखा   |   संबंधित लिंक

कॉपीराइट भा.पे.सं. सर्वाधिकार सुरक्षित